मुनि समत्वसागर महाराज ससंघ शास्त्रीनगर से विहार कर आर के कॉलोनी में मंगल प्रवेश किया

मुनि समत्वसागर महाराज ससंघ शास्त्रीनगर  से विहार कर आर के कॉलोनी में मंगल प्रवेश किया

भीलवाड़ा बीएचएन। तरणताल के सामने स्थित आरके कॉलोनी श्री आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में गुरुवार को आचार्य सुन्दर सागर महाराज ससंघ एवं चर्याशिरोमणी आचार्य विशुद्ध सागर महाराज के परम प्रभावी शिष्य मुनि समत्वसागर महाराज के मंगल मिलन पर मंदिर परिसर जयकारों से गुंज उठा। श्रावक-श्राविकाएं श्रृद्धा एवं भक्ति से नृत्य कर रहे थे।

श्री आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष नरेश गोधा ने बताया कि प्रातः 5.30 बजे मुनि समत्वसागर महाराज ससंघ शास्त्रीनगर मेन सेक्टर से विहार कर आर के कॉलोनी में मंगल प्रवेश किया। आचार्य सुन्दरसागर महाराज ससंघ ने अगवानी की। समत्वसागर महाराज ने आचार्य के तीन प्रदिक्षणा देकर नमन किया। मंदिर द्वार पर आदिनाथ महिला मंडल की सदस्याओं ने रंगोली एवं मंगल कलश से स्वागत किया।

सभी मुनिराजों के सानिध्य में अभिषेक एवं शांतिधारा की क्रिया में महेंद्र सुभाष सेठी ने मूलनायक पर शांतिधारा की। अन्य सभी प्रतिमाओं पर भी शांतिधारा की गई।

Read MoreRead Less
Next Story