पुलिस की सब्जी विक्रेताओं व किसानों पर बल पूर्वक कार्यवाही पर माली महासभा ने जताया रोष

भीलवाड़ा बीएचएन। शहर में अजमेर चौराहे पुलिया के पास संचालित सब्जी मंडी को अन्य जगह शिफ्ट करने को लेकर जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन द्वारा किये गये अमर्यादित व्यवहार व बिना किसी पूर्व सूचना के अचानक किसानों व सब्जी विक्रेताओं को बल पूर्वक खेदड़ने से किसानों व सब्जी विक्रेताओं में जबरदस्त रोष व्याप्त है।

राजस्थान प्रदेश माली (सैनी) महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष गोपाल लाल माली व महासभा के जिला कार्यकारी अध्यक्ष भैरूलाल माली सहित महासभा के कई पदाधिकारियों ने जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन द्वारा सब्जी विक्रेताओं व किसानों पर बल पूर्वक कार्यवाही करने को लेकर कड़े शब्दों में निंदा की है व कहा कि बिना किसी पूर्व सूचना के अचानक सब्जी मंडी को कई ओर शिफ्ट करना दुर्भाग्यपूर्ण है। जबकि किसान सुबह ही अपनी सब्जियां लेकर मण्डी पहुंचे ही थे कि पुलिस कर्मियों ने बाहर ही गाड़ियों को रोकते हुए उन्हें बल पूर्वक वहां से हटा दिया, जो कि कतई न्यायोचित नहीं है।

सब्जी मंडी के सब्जी विक्रेताओं को आज पुलिसकर्मियों द्वारा हटाये जाने पर सब्जी विक्रेताओं ने कड़ा विरोध करते हुए आक्रोश जताया। वहीं वैकल्पिक व्यवस्था नहीं होने तक नहीं हटाने की मांग की। माली ने बताया कि माली समाज के लोग यहां कई वर्षाें से सब्जी बैचकर अपना भरण-पोषण करते आ रहे है। आज अचानक ही पुलिसकर्मियों द्वारा उक्त स्थल पर नहीं बैठने दिया गया। जिससे सब्जी विक्रेताओं में आक्रोश बढ़ गया।

Read MoreRead Less
Next Story