महिला आरक्षण को कम करने की मांग को लेकर छात्रों ने फूंका मुख्यमंत्री का पुतला

भीलवाड़ा । सरकार द्वारा युवाओं के साथ अन्याय करते हुए तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा में महिला कोटे को बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने के विरोध में आज माणिक्य लाल वर्मा महाविद्यालय के छात्रों ने मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा को पुतला फूंककर आरक्षित कोटा पुन: 30 प्रतिशत करने की मांग की है।

छात्र नेता अजय खोईवाल के नेतृत्व में छात्रों ने आज कलेक्ट्री पहुंचकर प्रदर्शन और नारेबाजी की। छात्रों कहना है कि राजस्थान सरकार द्वारा तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती में महिला आरक्षण 30 प्रतिशत से बढाकर 50 प्रतिशत कर दिया जो न्यायोचित नहीं है। वर्तमान समय में बालिकाएं 40 से 50 प्रतिशत सीटें अपनी प्रतिस्पर्धा से प्राप्त कर रही है। ऐसे में अगर 50 प्रतिशत आरक्षण दिया गया तो महिलाएं 80 प्रतिशत तक पहुंच जाएगी। इसके अलावा 12.5 प्रतिशत भूतपूर्व सैनिक, 4 प्रतिशत विकलांग, 2 प्रतिशत खेल के लिए आरक्षित है। ऐसे में आम युवाओं के लिए ज्यादा कुछ नहीं बचेगा। छात्रों ने कहा है कि सरकार ने ऐसी स्थिति पैदा कर दी है कि युवा बेरोजगार होकर सड़कों पर आ जाएगा। हमने तो भाजपा को इसलिए वोट दिया कि युवाओं के लिए रोजगार के अवसर खुलेंगे लेकिन सरकार ने तो महिला आरक्षण बढ़ाकर जीते जी मार दिया है। महिला सशक्तिकरण के चक्कर में पुरूष वर्ग के नौकरी के अवसर बन्द होते नजर आ रहे है। इसी के विरोध में आज युवाओं ने मुख्यमंत्री का पुतला फूूंककर मांग की कि महिला आरक्षण 30 प्रतिशत ही रखा जाये।

Tags

Read MoreRead Less
Next Story