Yoga: ऋषि मुनियों का दिया वरदान है योग - स्वामी परमार्थदेव

ऋषि मुनियों का दिया वरदान है योग - स्वामी परमार्थदेव

भीलवाड़ा । पतंजलि योगपीठ हरिद्वार के मुख्य केंद्रीय प्रभारी स्वामी परमार्थ देव ने कहा कि योग ऋषि मुनियों का दिया वरदान है। योग के माध्यम से हम चरित्रवान बने। राष्ट्र के विकास के लिए हमें योगी बनना होगा। मन शांत रखने के लिए पुरुषों के साथ-साथ स्त्रियों को भी योग करना अति आवश्यक है। योग शरीर को ऊर्जावान बनाता है इससे निरोगता बनी रहती है। आहार में हमें खीरा, टमाटर, करेले का सेवन जरूर करना चाहिए। स्वामी परमार्थ देव बुधवार को पतंजलि योग समिति, भारत स्वाभिमान ट्रस्ट, महिला पतंजलि योग समिति, युवा भारत की ओर से 5 दिवसीय निशुल्क योग शिविर के दूसरे दिन वर्धमान विद्यालय के खेल मैदान में सैकड़ो शहरवासियों को योग सिखाते हुए संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जीवन में निरोगता पाने एवं लंबी आयु पाने के लिए योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करना होगा। भारत स्वाभिमान न्यास के जिला प्रभारी भीमाराम के अनुसार सह राज्य प्रभारी (भारत स्वाभिमान न्यास) मदन मोहन व राज्य कार्यकारिणी सदस्य सुरेशचंद्र शर्मा, कुल्हड़ ग्रुप से भूपेंद्र मोगरा, न्यास महामंत्री प्रेमशंकर जोशी, कोषाध्यक्ष रजनीकांत आचार्य, योग शिक्षक भंवरलाल शर्मा, प्रदीप शर्मा आदि शिविर को सफल बनाने में सहयोग कर रहे हैं। शिविर 18 मई तक रोडवेज बस स्टैंड के पास वर्धमान स्कूल मैदान पर सुबह 5.30 से सुबह 7.30 बजे तक होगा। स्वामी परमार्थ देव ने एनसीसी ग्राउंड पर भी आहार विहार पर प्रशिक्षण दिया। कर्नल तेजेंद्र शर्मा मौजूद रहे।

Tags

Read MoreRead Less
Next Story