उद्यान विभाग के परिसर में वृक्षारोपण

चित्तौड़गढ़, । मुख्यमंत्री वृक्षारोपरण महाअभियान (हरित चित्तौड) के तहत उद्यान विभाग के परिसर में वृक्षारोपण मुख्यमंत्री वृक्षारोपरण महाअभियान (हरित चित्तौड) के तहत चित्तौड़गढ़ स्थित उद्यान विभाग के मुख्यालय परिसर में बुधवार को उप निदेशक उद्यान व अन्य अधिकारियों ने 51 पौधे लगाए।

उपनिदेशक उद्यान डॉ.शंकर लाल जाट ने कहा कि वृक्ष लगाने कि पहल का उद्देश्य पर्यावरण संरक्षण और हरित क्षेत्र का विस्तार करना है, जिससे आने वाली पीढ़ियों को स्वच्छ और स्वस्थ वातावरण मिल सके और प्रदेश हराभरा एवं हरित हो सकें। उन्होंने बताया कि हरियाली का सर्जन हर घर वृक्षारोपण के तहत प्रदेश नागरिक को एक पेड़ मां के नाम लगाकर उसकी सुरक्षा करनी चाहिए। ताकि हमारा प्रदेश हरियाला राजस्थान व समृद्ध राजस्थान कि संकल्पना सहकार हो सकें। संयुक्त निदेशक कृषि (विस्तार), दिनेश कुमार जागा, उपनिदेशक उद्यान, डॉ. शंकर लाल जाट, सहायक निदेशक उद्यान डॉ. प्रकाश चन्द्र खटीक, सहायक निदेशक कृषि (विस्तार) अंशु चौधरी एवं कृषि अधिकारी श्री ज्योती प्रकाश सिरोया, डॉ. विमल सिंह राजपूत, श्री जोगेन्द्र सिंह राणावत, श्री गोपाल लाल धाकड़ और विभागीय कार्मिक अनिल कुमार भावरिया, अजीत यादव, श्रीमती शंकर कंवर, रिंकू, भीमसिंह पंवार, रामेश्वर लाल भट्ट, गोविन्द कुम्हार, शंकर लाल ने पौधारोपण कार्यक्रम में भाग लेकर पौधे लगाए। वृक्षारोपण कार्यक्रम में उद्यान विभाग के मुख्यालय स्थित सभी अधिकारियों और कर्मचारियों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया और पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्मेदारी को निभाने का संकल्प लिया। साथ ही पौधरोपण कर अपनी भागीदारी निभाई। किसान भाईयों से आवहन किया कि फलदार पौधे लगाकर अपनी आमदनी बढाये। विभाग द्वारा नवीन फल बगीचा स्थापना पर 75 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है।

Read MoreRead Less
Next Story