Madhavi Raje Scindia: ज्योतिरादित्य सिंधिया की मां राजमाता माधवी राजे का निधन

ज्योतिरादित्य सिंधिया की मां राजमाता माधवी राजे का निधन
राजमाता माधवी राजे सिंधिया का बुधवार को निधन हो गया है। वो बीते कई दिनों से दिल्ली के AIIMS अस्पताल में गंभीर हालत में भर्ती थीं।

ग्वालियर । सिंधिया राजघराने की 70 वर्षीय राजमाता माधवी राजे सिंधिया का बुधवार को निधन हो गया है। बता दें कि, वो बीते कई दिनों से दिल्ली के AIIMS अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। लेकिन दिन ब दिन उनकी तबियत बिगड़ती जा रही थी। बताया जा रहा है कि अंतिम समय वो एम्स के आईसीयू में वेंटिलेटर पर थीं और यहीं उन्होंने अंतिम सांस ली।

सांस लेने में हो रही थी तकलीफ

हाल ही में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया था कि, राजमाता माधवी राजे को सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें 15 फरवरी को दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था। इसी साल 6 मार्च को भी उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। उस समय भी उनकी हालत नाजुक थी और उनको लाइफ सपोर्टिंग सिस्टम ( Vantilator ) पर रखा गया था।

तीन माह से वेंटिलेटर पर

पहली बार 15 फरवरी को माधवी राजे की तबीयत बिगड़ी थी, उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। उसके बाद से ही उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। वे लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थीं। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कुछ समय पहले यह जानकारी शेयर की थी।

नेपाल राजघराने से है माधवी राजे

नेपाल राजघराने से माधवीराजे सिंधिया का संबंध है। उनके दादा शमशेर जंग बहादुर राणा नेपाल के प्रधानमंत्री थे। कांग्रेस के दिग्गज नेता माधवराव सिंधिया के साथ माधवी राजे के विवाह से पहले प्रिंसेस किरण राज्यलक्ष्मी देवी उनका नाम था। साल 1966 में माधवराव सिंधिया के साथ उनका विवाह हुआ था। मराठी परंपरा के मुताबिक शादी के बाद उनका नाम बदलकर माधवीराजे सिंधिया रखा गया था। पहले वे महारानी थीं, लेकिन 30 सितंबर 2001 को उनके पति और पूर्व केंद्रीय मंत्री माधवराव सिंधिया के निधन के बाद से उन्हें राजमाता के नाम से संबोधित किया जाने लगा।

Read MoreRead Less
Next Story