श्री कल्लाजी वेद विद्यालय के नवप्रवेशी बटुकों का सामूहिक उपनयन संस्कार संपन्न

श्री कल्लाजी वेद विद्यालय के नवप्रवेशी बटुकों का सामूहिक उपनयन संस्कार संपन्न

मेवाड़ के प्रसिद्ध श्री शेषावतार कल्लाजी वेदपीठ एवं शोध संस्थान द्वारा विगत दो दशकों से संचालित एवं राजस्थान संस्कृत अकादमी द्वारा मान्यता प्राप्त श्री कल्लाजी वेद विद्यालय में नवप्रवेशी 45 बटुकों का आषाढ़ शुक्ला पंचमी गुरूवार को वैदिक विश्वविद्यालय के विशाल यज्ञ मंडप में सामूहिक उपनयन संस्कार वैदिक विधान के साथ संपन्न हुआ। उपनयन संस्कार का यह दृश्य प्राचीन भारतीय संस्कृति के ऋषि मूनियों की तपस्थली के अनुरूप परिलक्षित हो रहा था। वेदपीठ के आचार्यों द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के साथ बटुकों को यज्ञ में आहूतियां देकर विधि विधान के साथ जनेऊ धारण कराकर उपनयन संस्कार को संपादित किया गया। तदुपरान्त नवप्रवेशी 45 बटुकों को गुरू मंत्र देकर चारों वेदों एवं पौरोहित्य कर्मकाण्ड में विद्वान बनने का आशीर्वाद दिया गया। वेदपीठ के प्रवक्ता ने बताया कि वेद विद्यालय में नवप्रवेशी बटुकों सहित 140 बटुक निशुल्क आवासीय सुविधाओं का लाभ उठाते हुए वेदाध्ययन करेंगे।

Read MoreRead Less
Next Story