जिला इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर की स्थापना, 15 जून से होगा प्रभावी

चित्तौड़गढ़। मानसून सत्र 2024 में संभावित बाढ़ के खतरों से बचाव की पूर्ण व्यवस्था करने तथा विभिन्न सूचनाओं के आदान-प्रदान करने के लिए कलक्ट्रेट के कमरा संख्या 18 में स्थापित इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर को 15 जून से सक्रिय किया जाएगा। यह नियंत्रण कक्ष 24 घंटे कार्य करेगा। केंद्र के प्रभारी अधिकारी अतिरिक्त जिला कलक्टर/प्रशासन (भू.अ.) होंगे।

जिला कलक्टर आलोक रंजन ने जारी आदेश में बताया कि स्थापित इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर के दूरभाष नंबर 01472-244923 रहेंगे। उन्होंने बताया कि स्थापित सेंटर प्रातः 6 बजे से 24 घंटे अनवरत कार्य करेगा। केंद्र में कार्यरत अधिकारी, कर्मचारी बाढ़ सहायता संबंधी समस्त सूचनाओं/ शिकायतें/सुझाव प्राप्त कर उनके निस्तारण के बारे में अपनी टिप्पणी अंकित कर प्रभारी अधिकारी नियंत्रण कक्ष को देंगे।

जल संसाधन विभाग में भी बाढ़ नियंत्रण कक्ष की स्थापना

जिले में जल संसाधन खण्ड के अधीन 15 जून से बाढ नियंत्रण कक्ष की स्थापना की जाएगी, जो लगातार 24 घंटे कार्यरत रहेगा। जल संसाधन खण्ड के अधिशाषी अभियंता राजकुमार शर्मा ने बताया कि जिले में वर्षा, बांधों के गेज, नदियों के जल प्रवाह डिस्चार्ज तथा अतिवृष्टि से उत्पन्न किसी भी संभावित खतरे आदि की सूचना बाढ़ नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नंबर 014272-252042 पर दी जा सकती है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष के प्रभारी अधिकारी सहायक अभियंता दिलीप कुमार होंगे, जिनके दूरभाष नंबर 8875542078 होंगे।

Read MoreRead Less
Next Story