राजस्थान में 5 नामी ब्रांड्स के मसाले पाए गए खतरनाक

राजस्थान में 5 नामी ब्रांड्स के मसाले पाए गए खतरनाक

जयपुर। नेपाल, हांगकांग व सिंगापुर ने भारत के कई प्रिष्ठित मसालों पर बैन लग गई है। इन मसालों को लेकर कहा गया कि ये शरीर के लिए हानिकारक हैं और शोध के दौरान इनमें कार्सिनोजेनिक कीटनाशक एथिलीन ऑक्साइड के होने का पता लगा है। इन तीनों देशों ने लोकप्रिय भारतीय मसाला ब्रांडों एमडीएच प्राइवेट और एवरेस्ट फूड प्रोडक्ट्स प्राइवेट की बिक्री पर बैन लगाई है। इसके बाद अब राजस्थान में मिलने वाले अन्य मसालों को लेकर भी बड़े खुलासे हुए हैं।

राजस्थान स्वास्थ्य विभाग की एक हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, एमडीएच, एवरेस्ट, गजानंद, श्यान, और शीबा ताज़ा ब्रांड के मसालों के सैंपल पर शोध किया गया। मशालों में कीटनाशक निर्धारित मानकों से अधिक पाए जाने के बाद एमडीएच, एवरेस्ट समेत पांच कंपनियों के मसालों के सैंपल फेल हो गए। राजस्थान स्वास्थ्य विभाग ने मसालों के स्टॉक को सीज करने का निर्णय किया है। शोध में सामने आया है कि ये मसाले अपनी गुणवत्ता पर परीक्षण के दौरान खरे नहीं उतर पाएं। अगर इनका सेवन किया जाए तो ये हमारे सेहत पर बुरा प्रभाव डाल सकते हैं।

राजस्थान स्वास्थ्य विभाग ने जारी किए अपने रिपोर्ट में कहा कि एमडीएच, एवरेस्ट, गजानंद, श्यान, और शीबा ताज़ा ब्रांड के मसालों का सैंपल टेस्ट किया गया। श्यान गरम मसाले में एसिटामिप्रिड, शीबा ताज़ा के रायता मसाला में थियामेथोक्सम और एसिटामिप्रिड, गजानंद पिकल मसाले में एथिओन, एवरेस्ट का जीरा मसाला में एज़ोक्सीस्ट्रोबिन और थियामेथोक्साम के कण पाए गए हैं। जांच टीम ने टेस्ट के बाद खुलासा किया कि इन मसालों में तय सीमा से ज्यादा पेस्टिसाइड का उपयोग किया जा रहा है जो हमारे सेहत के लिए काफी नुकसानदेह हैं।

जांच के बाद गुजरात व हरियाणा के खाद्य सुरक्षा आयुक्त ने पत्र लिखकर इन ब्रांड्स पर जल्द से जल्द एक्शन लेने व कार्रवाई करने की बात कही है। उन्होंने पत्र लिखकर भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी को भी इस पर पड़ताल करने का आहवाह्न किया है।

Read MoreRead Less
Next Story