श्रमिकों के बच्चों को छात्रवृत्ति के लिए आवेदन आमंत्रित

उदयपुर । भारत सरकार, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय नई दिल्ली के निर्देशानुसार चूना पत्थर एवं डोलोमाइट, अभ्रक खान, बीड़ी श्रमिक, लौह, मैगनीज एवं क्रोम अयस्क खदान श्रमिकों के बच्चों हेतु वर्ष 2024-25 मे भी छात्रवृत्ति हेतु आवेदन जारी है। राज्य के कल्याण आयुक्त एस.एस.चौहान ने बताया कि इस योजना के तहत कक्षा 1 या उससे ऊपर की कक्षाओं के नियमित छात्रों हेतु प्री मैट्रिक में ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 31 अगस्त तथा पोस्ट मैट्रिक के लिए 31 अक्टूबर रखी गई है।

यह रहेगी पात्रताः

उन्होंने बताया कि इस वर्ष छात्रवृति के लिए पूर्व की भांति समस्त विद्यार्थियों को नेशनल स्कालरशिप पोर्टल के माध्यम से “ऑनलाइन“ आवेदन करने हांगे। छात्रों के माता-पिता में से कोई एक बीड़ी श्रमिक, चूना पत्थर और डोलोमाइट खान श्रमिक या लौह अयस्क मैंगनीज और क्रोम अयस्क खान श्रमिक होना चाहिए। उसे कम से कम छह महीने के कार्य का अनुभव होना चाहिए, इसमें संविदा या घरखाता श्रमिक भी शामिल हैं। छात्र का राज्य या केंद्र सरकार के मान्यता प्राप्त शिक्षा संस्थान मे अध्ययनरत होना अनिवार्य है अन्य किसी भी विभाग या स्रोत से छात्रवृत्ति प्राप्त करने वाले विद्यार्थी इस विभाग से दी जाने वाली छात्रवृत्ति के हकदार नहीं होंगे। विद्यार्थियों को ऑनलाइन आवेदन करने के लिए नेशनल स्कालरशिप पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर आवेदन पत्र भरना होगा जिसके लिए उन्हें अपना आधार नंबर, पिछले वर्ष की अंक तालिका, श्रमिक का आय प्रमाण पत्र तथा श्रमिक पहचान पत्र साथ मे अपलोड करना होगा।

इस बात का रहे विशेष ध्यान

प्रायः यह देखा गया है कि चूना पत्थर एवं डोलोमाइट खान छात्रवृति योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार के रजिस्टर्ड अन्य श्रमिक भी भ्रान्ति वश आवेदन कर देते है, जिससे उन आवेदनों को निरस्त करना पड़ता है। इसके लिए ध्यान रहे कि विद्यार्थी आवेदन करते समय उसी योजना का चयन करे जिसके लिए वे पात्र है। संबंधित योजना की जानकारी नेशनल स्कालरशिप पोर्टल पर भी उपलब्ध है। छात्रवृत्ति आवेदन के संबंध में कल्याण आयुक्त (केन्द्रीय) अजमेर के ईमेल एड्रेस या उनके द्वारा संचालित विभिन्न चिकित्सालयों से संपर्क कर सकते है।

Read MoreRead Less
Next Story